ख़बरें विस्‍तार से

अक्षय तृतीय पर 10 करोड़ का बिका सोना

Lucknow /, | Publish Date: May 9 2016 11:05PM IST Views:653
टैग्स: Lucknow | Local News

लखनऊ। देश भर में सोमवार को दान-पुण्य की अक्षय तृतीया पूरे उल्लास के साथ मनाई गई।  राजधानी लखनऊ में अक्षय तृतीय के दिन पिछले वर्ष की तुलना में इस बार सोने चांदी की खरीदारी में 40 प्रतिशत की कमीं रही।
लखनऊ सर्राफा एसोसिएशन के अध्यक्ष कैलाश चन्द्र जैन ने बताया कि इस बार शादी विवाह जैसे शुभ मुर्हुत नहीं होने के कारण अक्षय तृतीया पर सोने चांदी की खरीदारी पिछले वर्ष की तुलना में 40 प्रतिशत कम रहीं। सोमवार को शहर भर में 27 किलो सोने की खरीदारी हुई जो लगभग 10 करोड़ तक का था। वहीं सौ किलो चांदी खरीदारी की खपत हुई जिसकी कीमत 4 करोड़ थी।
अक्षय तृतीया पर दिन भर खरीददारी के शुभ मूहूर्त होने के चलते बाजारों में रौनक देखने को मिली। ज्योतिषाचार्यो के अनुसार सुबह से लेकर शाम 6:29 बजे तक शापिंग केउत्तम मूहूर्त रहा। गोमतीनगर निवासी आचार्य प्रदीप ने बताया कि रविवार रात को 8:29 बजे के बाद से ही अक्षय तृतीया का मान शुरू हो गया। जो सोमवार शाम तक रहा। उन्होंने बताया कि अक्षय तृतीया से ही त्रेतायुग की शुरुआत हुई थी। कहा जाता है कि इस दिन किया गया जप, तप, दान, धर्म का पुण्य कभी भी नष्टï नहीं होता। किसी भी वस्तु का नाश न हो इसलिए अक्षय तृतीया मनाई जाती है। अक्षय तृतीया के दिन ही भगवान विष्णु के परशुराम अवतार का जन्म हुआ था। अक्षय तृतीया ही वो शुभ घड़ी थी जब भगवान नर-नारायण और भगवान विष्णु का हयग्रीव अवतार हुआ। परंपराओं के अनुसार, चार धामों में से एक श्री बद्रीनारायण के पट इसी दिन ही खुलते हैं। वृंदावन में बांके बिहारी के चरणों के दर्शन भी साल में एक बार इसी दिन ही होते हैं। 
आलमबाग के मुंडावीर परिसर में हर साल की तरह समाज को संस्कारी ब्राह्मïण देने के क्रम में भारी संख्या में सामूहिक यज्ञोपवीत का आयोजन किया गया। आयोजन से जुड़े देवेन्द्र शुक्ल ने बताया कि सुबह 8 बजे से होने वाले आयोजन में काफी संख्या में लोगों ने पंजीकरण कराया। जिनका सामूहिक 
यज्ञोपवीत किया गया।  

सहालग नहीं होने के चलते इस बार अक्षय तृतीय पर सोने चांदी की खरीद में 40 प्रतिशत की रही गिरावट 


अगली प्रमुख खबरे

Video's

Submit Your News (Be a Reporter)