ख़बरें विस्‍तार से

मराठा आंदोलन का शांति मार्च आज, मांगें पूरी करना सरकार के बस में नहीं

Mumbai /1, | Publish Date: Aug 8 2017 10:41PM IST Views:406

मुंबई में आज पांच लाख मराठा आरक्षण और अहमदनगर जिले के कोपार्डी में हुए गैंगरेप व हत्या के आरोपियों को मौत की सजा देने के लिए शांतिपूर्ण मार्च करेंगे। यह मार्च 11 बजे से दक्षिण मुंबई से शुरू होगा, लेकिन इसका असर पूरे शहर में दिख सकता है। मार्च के चलते पूरे शहर के स्कूलों को बंद कर दिया गया है। जिस रास्ते पर इस मार्च को निकाला जाएगा वो पूरा रास्ता सुबह से ही ट्रैफिक के लिए बंद कर दिया गया है।  

चर्चा का आमंत्रण -
इससे पहले राज्य के राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटील ने सरकार और मुख्यमंत्री की तरफ से मराठा आंदोलन में शामिल सभी संगठनों को चर्चा करने का आमंत्रण दिया था लेकिन मराठा समाज चर्चा के मूड में नहीं था। उनका कहना है कि, "सरकार लंबे समय से उन्हें टरका रही है।"

मांगें पूरी करना सरकार के बस में नहीं -
चंद्रकांत पाटील ने कहा कि, "जिन मांगों के लिए मराठा समाज आंदोलन कर रहा है उसमें से ज्यादातर मांगें सरकार ने पूरी कर दी हैं, लेकिन तीन मांगें पूरी करना सिर्फ राज्य सरकार के बस में नहीं है। इनमें से पहली कोपर्डी बलात्कार कांड के आरोपियों को फांसी देने की मांग सरकार पूरी नहीं कर सकती, क्योंकि यह निर्णय लेने का अधिकार अदालत का है। दूसरी मांग है अट्रोसिटी कानून में संसोधन की, यह मामला केंद्र सरकार और संसद के अधिकार क्षेत्र में आता है। तीसरी मांग मराठा आरक्षण को लागू करने की है, यह फिलहाल इसलिए पूरी नहीं की जा सकती क्योंकि मामला अभी न्याय प्रविष्ट है और इसमें न्यायालय का फैसला आना बाकी है।"


अगली प्रमुख खबरे

Video's

Submit Your News (Be a Reporter)